Home टपोरी टुरकी ....Jocks for You दमयंती : कुछ साल पहले मेरा फिगर पेप्सी की बोतल की तरह...

दमयंती : कुछ साल पहले मेरा फिगर पेप्सी की बोतल की तरह था…

104
marathi jockes for every body...

नारू का लडका बंटी के उत्तरपत्रिकामें ‘झिरो’आया…
गुस्से नारू : यह क्या है?
बंटी : पिताजी, शिक्षक के पास ‘स्टार’ खत्म हो हो गए थे,
इसलिये उसने ‘मून’ दे दिया.

***

कुछ दोस्त ऐसे हैं जो घर से
बीवी की लात खाकर आते हैं और
दोस्तों से कहते फिरते हैं
आज तो मैं लेग पीस खाकर आया हूं़़़
***

जय : अरे सुनो, मुन्ना रो रहा है चुप कराओ इसे…
छावी (गुस्से में) : मैं काम करूं या बच्चे संभालू?
मैं इसे दहेज में नहीं लाई थी, खुद ही चुप करा लो़
जय : फिर रोने दे, मैं कौनसा इसे बारात में लेकर गया था़

***

महिला (शादीशुदा) : पंडितजी, मेरे पति हमेशा मुझसे लड़ते रहते हैं.
घर की सुख,शांति के लिए कौनसा व्रत रखूं?
पंडितजी : मौन व्रत रखो बेटा, सब बढ़िया होगा.

***

जानू से देवा ने पुछा : क्यों टेंशन में हो?
जानू : यार एक दोस्त को प्लास्टिक सर्जरी के लिए दो लाख दिए…
देवा : तो?
जानू : …अब साले को पहचान नहीं पा रहा हूँ.

***

बसंता अपनी बिमारी की वजह से डॉक्टर के पास गया़.
डॉक्टर : आपकी बिमारी की सही वजह मेरी समझ में नहीं आ रही,
हो सकता है की दारू पिने की वजह से ऐसा हो रहा हो..
बसंता: कोई बात नहीं डॉक्टर साहब, जब आपकी उतर जाएगी तो मैं दोबारा आ जाऊंगा़

***

दमयंती : कुछ साल पहले मेरा फिगर पेप्सी की बोतल की तरह था…
निलू (झट से) : वो तो अब भी है बस, पहले बोतल तीन सौ एमएल की थी, अब दो लीटर की है…

***
आज का सुविचार (गृह विभाग)

घर समय से पहुँचो,
तो खाना गर्म और
घरवाली ठंडी मिलेगी…
और देर से पहुँचो,
तो खाना ठंडा और घरवाली गर्म.

***
आज प्रभाकर (प्रभू) के विचार…
वाह प्रभू, अजब तेरी लीला है,
चूहा बिल्ली से डरता है,
बिल्ली कुत्ते से डरती है,
कुत्ता आदमी से डरता है,
आदमी बीवी से डरता है
और बीवी चूहे से डरती है…

***

किशोर रोज किचन में जाता और चीनी का डिब्बा खोलकर देखता
और फिर बंद करके रख देता,
रजनी : रोज रोज ये क्या करते रहते हो?
किशोर : चुप कर, डॉक्टर ने कहा है, रोज अपनी शुगर चेक करते रहो.

*****